Friday, January 27, 2023

LIVE : परीक्षा पे चर्चा 2023: PM Narendra Modi

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ज़ुबानी परीक्षा के गुर और मंत्र

नई दिल्ली: 27 जनवरी 2023: (पीआईबी//दूरदर्शन//एजुकेशन स्क्रीन ब्यूरो)::

परीक्षा किसी युद्ध से कम नहीं होती। इसमें भाग लेने वाले किसी योद्धा से कम नहीं होते। इन सभी तथ्यों के बावजूद बहुत से लोग परीक्षा के नाम से घबरा जाते हैं। परीक्षा में कम अंक आने पर आत्म हत्याओं की खबरें भी आम बात हो गई हैं। वास्तव में यही परीक्षाएं ज़िंदगी की परीक्षाओं में सफल होने का आधार बताती हैं। इन परीक्षाओं में सफलता के मंत्र और गुरमन्त्र बताने के लिए प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी
अब बहुत ही तेज़ी से सक्रिय हैं। सक्रिय हैं। उनकी बातें गहन मनन के बाद जुबां पर आती हैं। आप भी सुनिए उनके नए विचार विचार दिल्ली के तालकटोरा स्टेडियम से।

Prime Minister now addressing and interacting with students as part of the Pariksha Pe Charcha at Tal Katora Stadium, New Delhi

Wednesday, January 25, 2023

वोट जैसा कुछ नहीं, वोट जरूर डालेंगे हम

Wednesday 25th January 2023 at 2:42 PM

प्रताप कालेज ने याद दिलाया कि हम भूलेंगे नहीं वोट डालने जाना है 


लुधियाना: 25 जनवरी 2023: (कार्तिका सिंह//एजुकेशन स्क्रीन)::

मतदान दिवस को देश में सबसे बड़े त्यौहार के तौर पर जाना जाता है। इस सबसे बड़े त्यौहार को लेकर एक जागरूकता अभियान ज़ोरों से चल रहा है। इस मौके पर हर वोटर उस महान ऊंचाई पर होता है जब वह अपनी मन पसंद सत्ता चुन सकता है। उस दिन मतदाता के मन की ही चलती है। जिस बदलाव को वह लाना चाहता है उसे लाने के लिए वह अम्न पसंद दाल और व्यक्तियों को चुन कर सत्ता में ला सकता है। प्रताप कालेज आफ एजुकेशन, लुधियाना में 13वें राष्ट्रीय वोटर दिवस के अवसर पर भाषण तथा पोस्टर मेकिंग मुकाबले करवाये गये। कालेज प्रिंसिपल डा.मनप्रीत कौर ने नये वोटर बने भावी शिक्षकों को वोट के अधिकार का महत्व बताते हुए हमेशा वोट देने के लिए प्रेरित किया। छात्र-छात्राओं ने भी इस सब को बहुत ही ध्यान से सुना। 

इस मौके पर कालेज की सहायक शिक्षिका श्रीमती पूनम बाला ने कालेज की बी.एड. तथा डी.एल.एड.कक्षाओं के विद्यार्थियों को वोट करके जनता का प्रतिनिधि चुनने के लिए अवश्य वोट देने के लिए मतदाताओं द्वारा ली जाने वाली शपथ  "हम भारत के नागरिक, लोकतंत्र में अपनी पूर्ण आस्था रखते हुए यह शपथ लेते हैं कि हम अपने देश की लोकतांत्रिक परम्पराओं की मर्यादा को बनाए रखेंगे तथा स्वतंत्र, निष्पक्ष एवं शांतिपूर्ण निर्वाचन की गरिमा को अक्षुण्ण रखते हुए निर्भीक होकर धर्म, वर्ग, जाति, समुदाय, भाषा अथवा अन्य किसी भी प्रलोभन से प्रभावित हुए बिना सभी निर्वाचनों में अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे"दिलाई।इस अवसर पर "मैं भारत हूँ" गीत भी सुनाया गया।कालेज के सहायक शिक्षक प्रदीप सिंह ने भी लोकतंत्र में वोट देने का महत्व बताया। इस तरह मतदाता के अधिकारों और शक्तियों की चर्चा बहुत ही विस्तार से हुई। 

यह सारी चर्चा बहुत ही ज्ञानवर्धक साबित हुई। तत्पश्चात भाषण तथा पोस्टर मेकिंग मुकाबले का भी आयोजन हुआ जिसमें बहुत ही सुंदर सुंदर पोस्टर बनाए गए। छात्र वर्ग की कलात्मक ऊंचाई भी इन üपोस्टरों के ज़रिए सब के सामने आई। इस प्रतियोगिता में भाग लेने वाले सभी विद्यार्थियों को इनाम दिये गए। अंत में राष्ट्र गान के साथ कार्यक्रम का समापन हुआ।

निरंतर सामाजिक चेतना और जनहित ब्लॉग मीडिया में योगदान दें। हर दिन, हर हफ्ते, हर महीने या कभी-कभी इस शुभ कार्य के लिए आप जो भी राशि खर्च कर सकते हैं, उसे अवश्य ही खर्च करना चाहिए। आप इसे नीचे दिए गए बटन पर क्लिक करके आसानी से कर सकते हैं।

Saturday, November 19, 2022

रुद्राक्ष नए करियर के नए दरवाजे भी खोल सकता है

Saturday 19th November 2022 at 5:51 PM

मोहाली के सर्वहितकारी स्कूल में हुई एक नई पहल शुरूआत 

Photo By Sameep Adhikari at Unsplash

कैरियर की दिशा में नए क्षेत्र और नई आयाम खुल रहे हैं। कृषि के साथ साथ ज़िंदगी के अन्य क्षेत्र भी बदल रहे हैं। रुद्राक्ष का नया वैज्ञानिक पहलू और इसकी बढ़ती हुई मांग ने स्व निर्भरता पर आधारित अच्छी आमदनी का मार्ग भी सुझाया है। मोहाली से देखिए एक पंजाबी रिपोर्ट यहां इस लिंक को क्लिक करके।  इस रिपोर्ट का हिंदी रूप आप यहां देख ही रहे हैं। See Also in English

मोहाली: 19 नवंबर 2022: (कार्तिका सिंह//एजुकेशन स्क्रीन)::

रुद्राक्ष के बारे में अब तक बहुत कुछ लिखा और पढ़ा जा चुका है। इसके महत्व से कौन वाकिफ नहीं है? इसे आम आदमी की पहुंच में लाना एक असंभव काम था, लेकिन आज यह मुश्किल काम काफी हद तक हो चुका है। इससे आध्यात्मिक लाभ मिलने के साथ-साथ आर्थिक लाभ भी अब लिया जा सकता है। इसमें एक नए तरह का करियर बनाया जा सकता है।

मान्यता है कि रुद्राक्ष की उत्पत्ति भगवान शंकर के आंसुओं से हुई है। जिससे रुद्राक्ष धारण करने से जातक पर भगवान शिव की कृपा सदैव बनी रहती है। इसे धारण करने से व्यक्ति सभी कष्टों से बच जाता है और सभी मनोकामनाएं पूरी होती हैं। रुद्राक्ष को विज्ञान में भी काफी प्रभावशाली माना गया है। लेकिन इस तक पहुंच बनाना आसान नहीं था। 

पर अब समय बदल गया है। तकनीक बहुत विकसित हुई है। अब आप अपने आस-पास के शहरों और इलाकों में भी रुद्राक्ष और उससे जुड़ी हर प्रामाणिक जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। अब रुद्राक्ष उगाने का प्रशिक्षण और अन्य सभी जानकारी मोहाली में भी मिल सकती है। पूर्व मुख्य कार्यकारी अधिकारी और राष्ट्रीय औषधीय पादप बोर्ड के सदस्य सचिव जितिंदर शर्मा ने "जितेंद्रवीर सर्वहितकारी मॉडल सीनियर सेकेंडरी स्कूल" सेक्टर -71, मोहाली में हर्बल लैब का दौरा किया।

इस दौरान उन्होंने दुर्लभ हर्बल पौधों और चिकित्सा क्षेत्र में उनके अनमोल सदुपयोग पर अपने विचार साझा किए। इस एसोसिएशन के दूरगामी प्रभाव बहुत अच्छे होंगे और मोहाली के साथ-साथ आसपास के इलाकों में रहने वाले लोगों को भी इसका लाभ मिलेगा। श्री ओम प्रकाश मनौली, पर्यावरण समन्वयक, विद्या भारती उत्तर क्षेत्र ने उनका स्वागत किया और 50 से अधिक हर्बल पौधों और 20 प्रजातियों के हर्बल पौधों के बारे में संक्षिप्त और वर्णनात्मक जानकारी प्रदान की। 

इस अवसर पर विद्यालय के प्राचार्य श्री विजय आनंद विशेष रूप से उपस्थित रहे। सांकेतिक गमला आधारित पौधारोपण के दौरान श्री जतिंदर शर्मा ने रूद्राक्ष रोपने के बाद स्कूल संगोष्ठी कक्ष में औषधीय पौधों के हर्बेरियम का भी निरीक्षण किया। 

श्री शर्मा ने कहा कि हर्बल जड़ी-बूटियों को आम और खास लोगों तक पहुंचाने की जरूरत है ताकि लोगों को इनके गुणों की पूरी जानकारी मिल सके। उन्होंने जोर देकर कहा कि हर्बल नर्सरी में उपलब्ध जड़ी-बूटियों से आसानी से आय अर्जित की जा सकती है। 

इस दौरान पंजाबी सिंगर और लोकेशन डायरेक्टर दर्शन औलख ने भी एक चित्रमय पौधा लगाया। उन्होंने प्रसन्नता व्यक्त की कि हर्बल गार्डन और नर्सरी में उनकी आने वाली पीढ़ी के लिए बहुमूल्य हर्बल पौधे हैं, जिनके बारे में छात्रों और शिक्षकों को पूरी तरह से जागरूक होने की आवश्यकता है ताकि हम मौजूदा हर्बल पौधों का सही उपयोग उनके स्वास्थ्य में शामिल कर सकें।

निरंतर सामाजिक चेतना और जनहित ब्लॉग मीडिया में योगदान दें। हर दिन, हर हफ्ते, हर महीने या कभी-कभी इस शुभ कार्य के लिए आप जो भी राशि खर्च कर सकते हैं, उसे अवश्य ही खर्च करना चाहिए। आप इसे नीचे दिए गए बटन पर क्लिक करके आसानी से कर सकते हैं।

Monday, November 14, 2022

अपने अंदर के बच्चे को जिन्दा रखने की प्रेरणा है बाल दिवस

जैन स्कूल में बाल दिवस धूम-धाम से मनाया गया 


लुधियाना: 14 नवंबर 2022: (कार्तिका सिंह//एजुकेशन स्क्रीन):: बाल दिवस नेहरू जी की याद के साथ ही हर बच्चे के मन में एक नयें उत्साह का उदय करता है। ऐसा उत्साह बच्चों के साथ साथ बड़ों को भी अपने अंदर के बचपने को हमेशा ज़िंदा रखने के लिए प्रेरित करता है। जहाँ एक और ज़िन्दगी की भागदौड़ में 2 पल की फुर्सत के लिए भी वक़्त चुराना पड़ता है, वहां ऐसे दिन हमारे दिल के बच्चे को थोड़ी और शरारतें करने का आग्रह करते हैं।  

कुछ ऐसा ही उत्साह  जैन स्कूल की सुबह की असेंबली में भी देखने को मिला।  जहाँ +1 क्लास के बच्चों ने एक रंगारंग कार्यकर्म पेश किया।  बच्चों में जोश और उत्साह देखने लायक था।  बच्चों ने चाचा नेहरू के जीवन पर प्रकाश डालने के साथ-साथ उनके जीवन से सम्बंधित कविताएं, भजन, क्विज़, कहानियां, राजस्थानी एवं पंजाबी डांस इत्यादि पेश किया गया।  'बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ' पर आधारित नाटक सबके आकर्षण का केंद्र रहा।  

स्कूल की प्रिंसिपल श्रीमती मीना गुप्ता जी ने सभी बच्चों को बाल दिवस की शुभकामनाएं देते हुए, उनके प्रस्तुतिकरण पर उनकी सराहना की।  मैनेजिंग कमेटी के प्रधान श्री नन्द कुमार जैन जी ने बच्चों को बाल दिवस का महत्व बताते हुए, पूरी लगन और मेहनत के साथ पढाई करने का संदेश दिया। 

इस अवसर पर स्कूल मैनेजिंग कमेटी के चेयरपर्सन श्री सुखदेव राज जैन, प्रधान श्री नन्द कुमार जैन, सीनियर  उपप्रधान श्री विपन कुमार जैन, उपप्रधान श्री शांति स्वरुप जैन एवं श्री बांके बिहारी लाल जैन, सचिव श्री राजीव जैन, सह-सचिव श्री राकेश कुमार जैन, मैनेजर श्री अरविन्द कुमार जैन, केशियर श्री अशोक जैन,  स्कूल के समस्त स्टाफ मेंबर्स तथा विधार्थी उपस्थित थे। 

Thursday, November 3, 2022

नन्हे-मुन्ने बच्चों ने खेली मनोरंजक बॉल गेम

 3rd November 2022 at 12:30 PM

"बॉल इन ट्यूब" गेम का मज़ा ले कर दौड़ी ख़ुशी की लहर 


लुधियाना
: 3 नवंबर 2022: (कार्तिका सिंह//एजुकेशन स्क्रीन)::

छोटी उम्र  के बोझ से बचाना और खेल खेल में सिखाना ही असली।  पंचकूला में  बी.के.एम.विश्वास स्कूल में आज किंडरगार्टन सेक्शन के नन्हे-मुन्ने बच्चों ने इसी मकसद के अंर्गत "बॉल इन ट्यूब" गेम खेली। इसमें नर्सरी से लेकर  के.जी .कक्षा तक के बच्चों ने इस मजेदार खेल का आनंद उठाया। कक्षा अध्यापिका ने बताया इस तरह की गतिविधियों व खेलों से बच्चों की एकाग्रता शक्ति बढ़ती है और नियमित रूप से खेल कूद को जीवन का हिस्सा बनाने से बच्चों का शारीरिक व मानसिक विकास बेहतरीन तरीके से होता है 


Wednesday, November 2, 2022

बी सी एम आर्य स्कूल,ललतों शतरंज चैंपियनशिप में भी छाया

 2nd November 2022 at 8:33 AM

 मोक्षिता प्रथम  स्थान पर रही और विद्या सागर ने भी कमाल दिखाया 


लुधियाना: 2 नवंबर 2022: (कार्तिका सिंह//एजुकेशन स्क्रीन):: 

कभी किसी समय शतरंज को शाही घरानों का खेल जाना जाता था। मुन्शी प्रेमचंद की कहानी "शतरंज के खिलाड़ी"  बहुत ही खूबसूरती से इस खेल को दर्शाती है। बाद में इस पर फिल्म भी बनी थी। सन 1956  के काल को दर्शाती इस कहानी पर फिल्म बनी थी 1977 में और इसने तीन फिल्म फेयर एवार्ड भी जीते थे। दिमाग की कसरत तेज़ करने वाली शतरंज आज भी लोकप्रिय है। इस शतरंज के खिलाड़ी स्कूलों में भी अपनी  रहे हैं। 

बी सी एम आर्य स्कूल,ललतों की कक्षा- 1 की छात्रा मोक्षिता और कक्षा - III के  विद्या सागर ने जालंधर में आयोजित 6  फायर-ऑन-बोर्ड शतरंज टूर्नामेंट में भाग लिया। जिसमें  मोक्षिता ने प्रथम  स्थान हासिल किया और विद्या सागर को अंडर-9 श्रेणी में 500 रुपये का नकद पुरस्कार मिला। प्रिंसिपल श्रीमती कृतिका सेठ ने उन्हें उनकी उपलब्धि पर बधाई दी।

निरंतर सामाजिक चेतना और जनहित ब्लॉग मीडिया में योगदान दें। हर दिन, हर हफ्ते, हर महीने या कभी-कभी इस शुभ कार्य के लिए आप जो भी राशि खर्च कर सकते हैं, उसे अवश्य ही खर्च करना चाहिए। आप इसे नीचे दिए गए बटन पर क्लिक करके आसानी से कर सकते हैं।

Tuesday, September 6, 2022

आर्य कॉलेज गर्ल्ज़ सेक्शन में मनाया गया शिक्षक दिवस

5th September 2022 at 07:17 PM

शिक्षकों के लिए गीत, कविताएं एवं अपने विचार प्रस्तुत किए गए 


लुधियाना: 5 सितंबर 2022: (संजय//एजुकेशन स्क्रीन)::

आर्य कालेज फॉर गर्ल्ज़ भी लुधियाना के जानेमाने शिक्षा संस्थानों में से एक है। इस शिक्षा संस्थान का प्रभाव पंजबा में तो है ही पूरे उत्तर भारत में महसूस किया जाता है। इस कालेज में भी शिक्षक दिवस पर विशेष आयोजन हुए। शिक्षक के महत्व की चर्चा हुई और उसकी साधना का भी ज़िक्र हुआ। 

इस बार के शिक्षक दिवस पर आर्य कॉलेज गर्ल्ज़ सेक्शन में आज बड़ी धूमधाम से शिक्षक दिवस मनाया गया। इस अवसर पर छात्राओं ने शिक्षकों के सम्मान में रंगारंग कार्यक्रम प्रस्तुत करते हुए शिक्षकों के लिए गीत, कविताएं एवं अपने विचार प्रस्तुत करके इस दिवस को यादगार बना दिया। इन सभी रचनाओं और मंचित की गई आइटमों में एक ख़ास संदेश था। 

कालेज की छात्राओं ने इस दिवस पर यह प्रण लिया कि वे सब शिष्या की भूमिका में अपना उत्तम प्रदर्शन करेंगी। इस अवसर पर आर्य कॉलेज प्रबंधकीय समिति की सचिव श्रीमती सतीशा शर्मा ने छात्राओं को शिक्षक दिवस का महत्व समझाते हुए इस दिवस से प्रेरणा लेने को कहा। कालेज प्रिंसिपल डॉ. सूक्ष्म अहलूवालिया ने इस अवसर पर  छात्राओं को संबोधित करते हुए कहा कि आपकी उत्तम शिक्षा ही हमारे लिए शिक्षक दिवस की सफलता है। कॉलेज इंचार्ज श्रीमती कुमुद चावला ने सभी छात्राओं को भविष्य में बहुत मेहनत करके अपने शिक्षकों का नाम रोशन करने के लिए कहा।